67 साल बाद एयर इंडिया को मिला पुराना ”महाराजा ” , TATA ने जीत ली बोली

आपको बता दें कि कई साल बाद फिर एयर इंडिया का मालिक रतन टाटा गए है .सरकारी कंपनी एयर इंडिया की 67 साल बाद वापसी होने वाली है. आपको बता दें कि एक बार फिर से टाटा ने एयर इंडिया की बोली जीत ली है.बता दे कि टाटा ग्रुप के जेआरडी टाटा ने ही Air India की शुरुआत की थी.

आपको बता दें कि टाटा समूह ने अक्टूबर 1932 में टाटा एयरलाइंस के नाम से एयर इंडिया के गठन किया था. 15 अक्टूबर 1932 को इसने पहली बार उड़ान भरी थी, पहली फ्लाइट कराची से बॉम्बे की रही जो आगे चेन्नई तक गई थी। ​साल 1947 में देश की आज़ादी के बाद एक नेशनल एयरलाइंस की ज़रूरत महसूस हुई और भारत सरकार ने Air India में 49% हिस्सेदारी ले ली थी। सरकार ने 1953 में एयरलाइन का राष्ट्रीयकरण कर दिया।

यह एशिया की पहली ऐसी एयरलाइन है जिसने सबसे पहले जेट एयरक्राफ्ट को जोड़ा था। फरवरी 1960 में एयर इंडिया ने बोइंग 707 के रूप में पहले जेट एयरक्राफ्ट को जोड़ा था। उसका नाम रखा गया ‘गौरी शंकर’। 1962 में एयर इंडिया इंटरनेशनल का नाम बदलकर एयर इंडिया कर दिया गया। 2007 में सरकार ने इंडियन एयरलाइंस का एयर इंडिया में विलय कर दिया।सरकार ने एयरलाइन में अपनी 100 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच दी है।

Facebook Comments Box