शादी में पहुंचे दुल्हन के भाई के 100 साथी कमांडो, दुल्हन को अपने शहीद भाई की कमी महसूस ना हो…

Copy

सैनिक एक ऐसा देशभक्त होता है जो देश को अपना परिवार समझता है, और रात-दिन ईमानदारी से बॉर्डर पर दुश्मनों से रक्षा करता हैं। एक प्रहरी, या एक सैनिक से अद्भुत, अकल्पनीय और अविश्वसनीय इंसान का रूप कोई नहीं हो सकता। सैनिक का जीवन बहुत ही कठिन होता है, जिसमें उन्हें अपने बच्चे तथा अपने परिवार को भी त्यागना पढ़ता हैं।उनकी जान कभी-भी कहीं भी जा सकती है कभी भी दुश्मनों से मुठभेड़ हो सकती है। कभी भी उनपर जानलेवा हमला किया जा सकता है, उनके जीवन पर हर समय खतरा मंडराता ही रहता है।

आज की कहानी एक ऐसे ही देशभक्त सैनिक की है जिसने हंसते हंसते अपने प्राण देश के नाम न्योछावर कर दिए। भारतीय वायु सेना (IAF) की एक टुकड़ी और गरुड़ कमांडो का हिस्सा ज्योति प्रकाश निराला जो एक देशभक्त थे, और देशभक्ति का मिसाल देते हुए 18 नवंबर 2017 को आतंकवादीयों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए।

deshbhakt

मालूम हो कि ज्योति प्रकाश निराला भारतीय वायु सेना (IAF) की एक टुकड़ी गरुड़ कमांडो का हिस्सा थे, और अपने परिवार के इकलौते बेटे, यही नहीं अपने परिवार के इकलौते कमाने वाले भी थे। 18 नवंबर 2017 को उनको लगा नहीं था, कि ये उनके जीवन का आखिरी दिन होगा, पर जब उन्हें पता चला जम्मू के बांदीपुर जिले के चंदरनगर गाँव में आतंकवादी छिपे हुए है, तो अपनी देशभक्ति भावना के साथ जुड़ गए और अपने नेतृत्व में कमान संभाली। पर आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए।

पर उसके आगे क्या उनके परिवार वालों का क्या, चलिए जानते हैं बिहार में हुई एक अनोखी शादी के बारे में- इस शादी की दुल्हन तो आम थी, पर इस शादी को खास बना दिए उनके शहिद भाई के रेजिमेंट के साथी ने। वे कोई आम सैनिक नहीं थे, भारतीय सेना के 100 गरुड़ कमांडो थे। ज्योति प्रकाश निराला(शहीद भाई) अपने परिवार के इकलौते बेटे थे, और उनको अपनी बहन शशिकला की शादी के बहुत सपने थे, पर अचानक आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए इसके उनके परिवार को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा, इसके बाद ज्योति प्रकाश निराला की रेजिमेंट के 100 गरुड़ कमांडो ने जिम्मेदारी ली।

सभी 100 गरुड़ कमांडो ने न सिर्फ जिम्मेदारी ली बल्कि धूमधाम, उल्लास और जोश से इस शादी को संपन्न भी करवाया, यही नहीं 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद भी की। यह सब देख कर ज्योति प्रकाश निराला के पिता तेजनारायण सिंह की आंखें खुशी से भर गईं, और उनकी बहन को भी शहीद इकलौते भाई की कमी महसूस नहीं होने दी, और जब इस शादी की वीडियो जब सोशल मीडिया पर आई तो काफी चर्चा में रही, और वायरल भी हुई।

Facebook Comments Box