Advertisement
Categories: देश

शहीद IAF पायलट की पत्नी 1 साल में ही एयरफोर्स में हुईं शामिल, बनीं फ्लाइंग ऑफिसर

फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा ने पासिंग आउट परेड में पहनी अपनी वायुसेना की यूनिफॉर्म अपने शहीद पति स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर को समर्पित की है. (Photo-ANI)

नई दिल्ली. 2019 में बेंगलुरु (Bengaluru) में मिराज 2000 एयरक्राफ्ट (Mirage 2000 Aircraft) के क्रैश के दौरान जान गंवाने वाले स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अबरोल (Squadron leader Samir Abrol) की पत्नी गरिमा अबरोल (Garima Abrol) एयरफोर्स अकेडमी (Airfoce Academy) से पास आउट हो गई हैं. डिफेंस पीआरओ शिलॉन्ग ने रविवार को यह जानकारी दी. पीआरओ के मुताबिक गरिमा अबरोल शनिवार को पास आउट हुईं और अब वह एयरफोर्ट में फ्लाइंग ऑफिसर बन गई हैं. हैदराबाद के डुंडीगल में शनिवार को एयरफोर्स अकेडमी में हुई पासिंग आउट परेड में गरिमा अबरोल भी शामिल थीं.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने इस पासिंग आउट परेड की सलामी ली थी. फ्लाइंग ऑफिसर गरिमा ने पासिंग आउट परेड में वायुसेना की जो यूनिफॉर्म पहनी थी, वह उन्होंने अपने शहीद पति स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर को समर्पित की है. बता दें कि साल 2015 में गरिमा की शादी स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर से अबरोल से हुई थी. 2019 में स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अबरोल बेंगलुरु में मिराज 2000 एयरक्राफ्ट के क्रैश के दौरान शहीद हो गए थे. उनकी शहादत के बाद पत्नी गरिमा ने एक बेहद भावुक करने वाला पोस्ट लिखा था. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में सिस्टम पर सवाल भी खड़े किए थे.



गरिमा ने अपने पति की शहादत के बाद उन्हें याद करते हुए एक भावुक पोस्ट में लिखा था कि- ‘मैं गरिमा अबरोल हूं. मैं शहीद स्‍क्‍वाड्रन लीडर समीर अबरोल की पत्नी हूं. मेरे आंसू अभी तक नहीं सूखे हैं. मुझे अब तक विश्वास नहीं हो रहा है कि तुम चले गए हो. मेरे सवालों का कोई जवाब नहीं दे रहा है. मेरे पति को भारतीय होने पर गर्व था. गरिमा ने लिखा था कि, ‘कितने और पायलटों को इस बात के लिए कुर्बानी देनी होगी जिससे इस सिस्टम के लोगों को एहसास हो कि कुछ गलत हुआ है. आपको जगाने के लिए कितने और पायलटों को अपनी जान देनी होगी.?’


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.