Advertisement
Categories: देश

लगातार तीसरे दिन सस्ता हुआ सोना, फटाफट जानिए क्या है आज का नया भाव | business – News in Hindi

गुरुवार को चांदी के दाम में भी गिरावट देखने को मिली

नई दिल्ली. सोने की कीमतों (Gold Price) में लगातार तीसरे दिन भी गिरावट देखने को मिली है. दिल्ली सर्राफा बाजार में गुरुवार को कीमती धातुओं के नये रेट्स जारी होने के बाद इस बारे में जानकारी मिली है. अंतरराष्ट्रीय बाजारों में भी सोने-चांदी की कीमतों (Gold Silver Price) में गिरावट देखने को मिली है. डॉलर में मजबूती देखने को मिली है, जिसके बाद पीली धातु की मांग में गिरावट आई. गुरुवार को चांदी के दाम में भी गिरावट देखने को मिली है. इसके पहले दो कारोबारी सत्र यानी मंगलवार और बुधवार को भी सोने की कीमतों में गिरावट देखने को मिली थी.

सोने की नई कीमतें (Gold Price, 15th October 2020) – गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने का भाव 32 रुपये कम हुआ है. इसके बाद अब सोने का नया भाव 51,503 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है. इसके पहले कारोबारी सत्र में सोने का भाव 51,532 रुपये पर था. अंतरराष्ट्रीय बाजारों की बात करें तो यहां भी मामूली गिरावट के साथ सोने का भाव 1,901 डॉलर प्रति आउंस पर रहा.

यह भी पढ़ें: कहीं ट्रैवल किए बिना भी ले सकेंगे LTC कैश वाउचर स्कीम का लाभ, सरल भाषा में समझें इसके नियम

चांदी की नई कीमतें (Silver Price, 15th October 2020) – दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी के भाव में गुरुवार को बड़ी गिरावट देखने को मिली है. आज चांदी 626 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ता होकर 62,410 रुपये पर आ गया है. इसके पहले कारोबारी सत्र में चांदी का भाव 63,036 रुपये प्रति किलोग्राम पर था. अंतरराष्ट्रीय बाजार में चांदी का भाव 24.18 डॉलर प्रति आउंस पर रहा.

एचडीएफसी सिक्योरिटीज के सीनियर एनलिस्ट कमोडिटीज तपन पटेल ने बताया कि डॉलर में मजबूती की वजह से सोने के भाव में दबाव देखने को मिला. डॉलर में तेजी को देखते हुए निवेशकों ने इसी को वरियता दी.’

यह भी पढ़ें: दशहरा और दिवाली पर घर जाते वक्त ट्रेन में इन नियमों को तोड़ा तो होगी जेल! लगेगा जुर्माना, जानिए सबकुुछ

दिवाली तक सोना की कीमतों में और आ सकती है गिरावट

7 अगस्त 2020 को सोने का सर्राफा बाजार में भाव 56254 के ऑल टाइम हाई पर पहुंचा था. चांदी ने भी इसी दिन 76008 रुपए प्रति किलो का भाव छुआ था. सोने के दाम कई फैक्टर्स पर निर्भर करता है इसलिए यह सिर्फ कयास ही है कि सोना सस्ता हो सकता है.क्योंकि तमाम देश अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में लगे हुए हैं. विशेषज्ञों का मानना है कि अगले साल तक डॉलर में मजबूती के साथ सोने के दाम में अचानक से तेजी देखने को मिल सकती है.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.