Advertisement
Categories: देश

बहू को है सास-ससुर के घर में रहने का अधिकार, सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया ऐतिहासिक फैसला | nation – News in Hindi

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने आज एक ऐतिहासिक फैसला सुनाया है. गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि घरेलू हिंसा अधिनियम (Domestic violence) के तहत बहू (Daughter-in-law) को अपने पति के माता-पिता के घर में रहने का अधिकार है. जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की पीठ ने तरुण बत्रा मामले में दो न्यायाधीशों की पीठ के फैसले को पलट दिया है.

बता दें कि इससे पहले तरुण बत्रा केस में दो जजों की बेंच ने कहा था कि कानून में बेटियां, अपने पति के माता-पिता के स्वामित्व वाली संपत्ति में नहीं रह सकती हैं. गुरुवार को अब तीन सदस्यीय पीठ ने इस केस की सुनवाई करते हुए तरुण बत्रा के फैसले को पलटते हुए 6-7 सवालों के जवाब दिया है और ये साफ़ कर दिया है कि पति की अलग-अलग संपत्ति में ही नहीं, बल्कि साझा घर में भी बेटी का अधिकार है.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.