Advertisement
Categories: देश

फेस्टिव सीजन में 36 फीसदी तक बढ़ेगी घरों की मांग, प्रॉपर्टी खरीदने का सबसे बेहतर समय | business – News in Hindi

दिसंबर तिमाही में घरों की मांग बढ़ने की उम्मीद है.

नई दिल्ली. फेस्टिव डिमांड के चलते पिछली तिमाही की तुलना में दिसंबर तिमाही में अवासीय घरों की बिक्री में 36 फीसदी तक इजाफा होने की उम्मीद है. दरअसल, मौजूदा समय में ब्याज दरें कम हैं और सरकार की तरफ से भी कई तरह के इंसेटिव्स दिए जा रहे हैं. स्टैम्प ड्यूटी ओर रजिस्ट्रेशन चार्ज में कटौती की गई है. ऐसे में फेस्टिव सीजन में घर खरीदार इन सभी बातों का फायदा उठाने की कोशिश करेंगे. डेवलपर्स भी इस समय कई फेस्टिव ऑफर्स मुहैया करा रहे हैं.

ANAROCK प्रॉपर्टी कंसल्टेंट्स के वाइस चेयरमैन संतोष कुमार ने कहा, दूसरी तिमाही में कोविड-19 मामले बढ़ने के बावजूद भी आवासीय घरों की बिक्री में इजाफा हुआ है. आने वाले फेस्टिव सीजन में हाउसिंग सेल्स में इजाफे के लिए ये कारण पर्याप्त हैं. इस दौरान कई तरह के फायदे को देखते हुए अब वो लोग भी घर खरीदेंगे, जो इसकी तैयारी में थे.’

डेवलपर्स भी कर रहे आकर्षक ऑफर्स की पेशकश
घर खरीदारों का लुभाने के लिए डेवलपर्स भी लगातार कोशिश में जुटे हुए हैं. डेवलपर्स ने फेस्टिव सीजन से पहले कई तरह की पेशकश की है. हालांकि, ये ऑफर्स एक सीमित समय के लिए ही हैं. जब हाउसिंग मार्केट में पर्याप्त तेजी आ जाएगी, तब इन ऑफर्स को वापस ले लिया जाएगा. ऐसे में अधिकतर घर खरीदार इन ऑफर्स का लाभ उठाने पर जोर देंगे.यह भी पढ़ें: ICICI ग्राहक घर बैठे करें FD और बिल पेमेंट, WhatsApp पर शुरू हुई नई सर्विस

ANAROCK के मुताबि​क, अक्टूबर​-दिसंबर तिमाही के बीच घरों की बिक्री में 33 से 36 फीसदी तक का इजाफा हो सकता है. घर खरीदार इस दौरान स्टैम्प ड्यूटी चार्जेज, कम ब्याज दर और डेवलपर्स के ऑफर्स का सबसे ज्यादा लाभ उठाने की कोशिश करेंगे.

किन शहरों में कितनी बढ़ेगी घरों की बिक्री
हैदराबाद में यह तेजी 20 से 24 फीसदी तक की होगी. पिछली तिमाही में केवल 1,650 यूनिट्स की ही बिक्री देखने को मिली थी. बेंगलुरु में जुलाई-सितंबर के बीच 5,400 यूनिट्स की बिक्री हुई है. ANAROCK को उम्मीद है कि तीसरी तिमाही के दौरान इस आंकड़े में करीब 30 से 35 फीसदी का इजाफा होगा.

यह भी पढ़ें: शेयर बाजार में भारी गिरावट: सेंसेक्स 1074 और निफ्टी 300 अंक टूटा, डूब गए 3 लाख करोड़ रुपये

इसी प्रकार दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में 27 से 31 फीसदी तक बिक्री बढ़ने की उम्मीद है. पुणे में सेल्स 34 फीसदी तक बढ़ सकता है. चेन्नई में 20 से 25 फीसदी और कोलकाता में 30 फीसदी तक घरों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद है.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.