Advertisement

पिता की मौत से टूट गए KXIP के बल्‍लेबाज मनदीप सिंह, बताया- कैसे खेली तूफानी पारी?

अर्धशतक जड़ने के बाद मनदीप सिंह

नई दिल्‍ली. किंग्‍स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) ने कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) पर 8 विकेट से जीत दर्ज की. इस जीत के साथ पंजाब पॉइंट टेबल में चौथे स्‍थान पर पहुंच गई है. पंजाब की इस जीत में सलामी बल्‍लेबाज मनदीप सिंह (Mandeep Singh) का बड़ा हाथ रहा, जिन्‍होंने 56 गेंदों पर नाबाद 66 रन की पारी खेली. इस बल्‍लेबाज के लिए यह पारी बेहद खास और यादगार है, क्‍योंकि उन्‍होंने यह आतिशी पारी अपने पिता के निधन के कुछ दिन बाद ही खेली. उन्‍होंने अर्धशतक जड़कर आसमान की तरफ देखा और इस पारी को पिता को समर्पित किया, जिन्‍होंने कुछ दिन पहले ही इस दुनिया को अलविदा कह दिया.
हालांकि पिता के निधन के बाद मनदीप भारत लौटने की बजाय तुरंत बाद सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैदान पर उतरे थे, मगर वह जल्‍दी आउट हो गए और उन्‍होंने उस अधूरी कसर को केकेआर के खिलाफ पूरा किया. मैच के बाद मनदीप ने पिता को याद करते हुए बताया कि उनके लिए यह कितना मुश्किल था.


हमेशा नॉट आउट रहने के लिए कहते थे पिता
मनदीप ने कहा कि यह मेरे लिए काफी खास है. मेरे पिता हमेशा मुझसे कहते थे कि हर मैच में नॉट आउट रहना. निश्चित रूप से विशेष है. वह हमेशा मुझसे कहते थे. चाहे 100 या 200 का स्‍कोर करो, आपको नॉट आउट ही रहना चाहिए. मैच से पहले मैंने राहुल (केएल राहुल) से बात की थी. पिछले मैच में मैं जल्‍दी स्‍कोर करने की कोशिश कर रहा था और मैं वह करने में सहज नहीं था. मैंने राहुल को कहा कि यदि मैं अपना नॉर्मल गेम खेलता हूं तो मैं मैच जीतूंगा और मुझे विश्‍वास था. यह भी पढ़ें:

IND vs AUS: केएल राहुल को मिला प्रमोशन, टीम इंडिया के उप कप्तान बनाए गए

IND vs AUS: ऋषभ पंत को झटका, वनडे और टी20 टीम से बाहर हुए, संजू सैमसन जाएंगे ऑस्ट्रेलिया

मनदीप ने कहा कि इसके बाद राहुल ने कहा कि मैं जिस तरह से खेलना चाहता हूं, वैसे खेलूं. इस जीत से खुशी है. क्रिस गेल ने सिर्फ मुझसे कहा कि बल्‍लेबाजी करते रहो और आखिर तक खेलो. मैंने उन्‍हें सिर्फ इतना कहा कि आपको रिटायर नहीं होना चाहिए.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.