Advertisement
Categories: देश

पत्नी के TMC में शामिल होने के बाद तलाक का नोटिस भेजेंगे BJP सांसद सौमित्र खान, कहा- खान सरनेम न लगाएं

कोलकाता. भाजपा सांसद सौमित्र खान (BJP MP Saumitra Khan) की पत्नी सुजाता मंडल खान (Sujata Mondal Khan) भगवा खेमे को छोड़कर सोमवार को तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) में शामिल हो गईं. उनका दावा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव (2019 Loksabha Election) में अपने पति को जिताने के लिए कई जोखिम उठाने के बावजूद उन्हें वाजिब पहचान नहीं मिली. इसके कुछ देर बाद ही सौमित्र खान (Saumitr Khan) ने कहा कि वह अपनी पत्नी सुजाता मंडल (Sujata Mondal) को तलाक का नोटिस भेज रहे हैं और उनसे अनुरोध किया कि वह अब उनका उपनाम इस्तेमाल नहीं करें.

बिश्नुपुर से सांसद सौमित्र खान ने आनन-फानन में प्रेस वार्ता बुलाई जिसमें उन्होंने कहा कि वह सुजाता मंडल को तलाक का नोटिस भेज रहे हैं और “10 साल का संबंध” तोड़ रहे हैं. खान ने कहा, “आपको कुछ लोग इस्तेमाल कर रहे हैं जो पति-पत्नी के बीच दरार पैदा करने से भी हिचकते नहीं हैं जो 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान एक-दूसरे के साथ खड़े थे. जी हां आप बिश्नुपुर लोकसभा सीट पर प्रचार के दौरान मेरा स्तंभ थीं.” खान ने कहा, ” कृपया यह मत भूलिए कि मैं 6,58,000 मतों से जीता हूं और यह अंतर मेरी पार्टी की वजह से संभव हुआ, इलाके में मेरी प्रतिष्ठा की वजह से संभव हुआ.”

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, भव्य तरीके से मनाई जाएगी नेताजी की 125वीं जयंती

खान ने कहा, “आप (सुजाता) इतने आगे तक इसलिए आई हैं, क्योंकि आपने जय श्रीराम का नारा लगाया था, आपने (नरेंद्र) मोदीजी के पक्ष में नारे लगाए थे, क्योंकि आप सौमित्र खान की पत्नी थीं.”सांसद ने कहा कि खान उपनाम का इस्तेमाल न करें सुजाता
सांसद ने कहा, “कृपया अब से “खान” उपनाम का इस्तेमाल करने से बचें. कृपया खुद को सौमित्र खान की पत्नी नहीं बताएं. मैं आपको अपने स्वयं के राजनीतिक भाग्य की योजना बनाने की स्वतंत्रता दे रहा हूं. लेकिन कृपया यह मत भूलिएगा कि आप उनका साथ ले रही है जिन्होंने मेरे भाजपा में शामिल होने के बाद 2019 में आपके माता-पिता के घर पर हमला किया था.”

खान ने टीएमसी नेतृत्व से आग्रह किया कि वह सुनिश्चित करें कि सुजाता मंडल पर किसी प्रकार का हमला नहीं हो या उन्हें नुकसान नहीं पहुंचाया जाए.

सुजाता मंडल ने लगाया भाजपा पर ये आरोप
इससे पहले, पत्रकार वार्ता में, सुजाता मंडल ने आरोप लगाया कि भाजपा में ‘नए-नए शामिल हुए, बेमेल और भ्रष्ट नेताओं’ को निष्ठावानों से ज्यादा तरजीह मिल रही है. टीएमसी सांसद सौगत रॉय और पार्टी प्रवक्ता कुणाल घोष की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद सुजाता मंडल ने कहा, “पति को संसद के लिए निर्वाचित कराने के वास्ते शारीरिक हमले झेलने समेत काफी बलिदान देने के बावजूद मुझे बदले में कुछ नहीं मिला… मैं हम सबकी प्रिय नेता ममता बनर्जी और हमारे दादा अभिषेक बनर्जी के मातहत काम करना चाहती हूं.”

ये भी पढ़ें- दिलीप घोष ने TMC को बताया वायरस, बोले- मेरे पास वैक्सीन, अगले साल बाहर कर देंगे

उनसे पूछा गया कि उनका यह फैसला भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के प्रदेश प्रमुख एवं उनके पति सौमित्र खान को किसी प्रकार से प्रभावित करेगा तो सुजाता मंडल ने कहा कि यह उन पर है कि वह अपने भविष्य के कदमों के बारे में फैसला करें.

उन्होंने कहा, ” मुझे उम्मीद है कि उन्हें एक दिन एहसास होगा… कौन जानता है कि वह भी टीएमसी में एक दिन वापसी करें.”


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.