Advertisement
Categories: देश

दिलीप घोष ने TMC को बताया वायरस, बोले- मेरे पास वैक्सीन, अगले साल बाहर कर देंगे

दिलीप घोष ने टीएमसी को वायरस बताया है. (फाइल फोटो)

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष (West Bengal BJP Chief Dilip Ghosh) ने कहा है कि उनके पास टीएमसी (TMC) वायरस की वैक्सीन है. दिलीप घोष ने सोमवार को दुर्गापुर (Durgapur) में बीजेपी कार्यालय के उद्घाटन समारोह के मौके पर कहा कि जैसे कि कोरोना मेरा कुछ नहीं बिगाड़ पाया वैसे ही टीएमसी भी मेरा कुछ नहीं कर सकती है. घोष ने कहा कि लेकिन हमारे पास कोरोना के लिए वैक्सीन है, हालांकि हमें ये नहीं पता कि ये कब खत्म होगा. लेकिन मुझे पता है कि टीएमसी बंगाल से अगले साल चली जाएगी. मेरे पास टीएमसी वायरस के लिए वैक्सीन है.

बता दें 2021 में होने वाले पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी तैयारियों में जुटी हुई है. इसी संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को दो दिन का बंगाल दौरा किया. अमित शाह ने रविवार को पश्चिम बंगाल के बोलपुर शहर में रोड शो किया. इस दौरान उनपर गेंदे के फूलों की पंखुड़ियां बिखेरी गईं और “जय श्रीराम” के नारे लगाए गए. कभी वामपंथ का गढ़ रहा और फिर ममता बनर्जी का दुर्ग बने बंगाल में कमल खिलाने की कोशिशों में लगे शाह ने दावा किया भगवा दल 200 से ज्यादा सीटें हासिल कर अगली सरकार का गठन करेगा. पश्चिम बंगाल में 294 विधानसभा सीट हैं.
शाह ने ममता सरकार पर बोला हमला
शाह ने “भतीजा” द्वारा संरक्षित “भ्रष्टाचार, उगाही और बांग्लादेशी घुसपैठ को लेकर” बनर्जी सरकार पर बार-बार हमला बोला. पत्रकारों से बातचीत करते हुए शाह ने पश्चिम बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले का हवाला दिया और राज्य में कानून एवं व्यवस्था के मुद्दे पर ममता बनर्जी सरकार की खिंचाई की. आंकड़ों का हवाला देते हुए शाह ने दावा किया कि राज्य स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा समेत विकास सूचकांकों पर विफल है. उन्होंने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस राज्य सरकार की विफलताओं से जनता का ध्यान हटाने के लिए ‘बाहरी-भीतरी’ के मुद्दे को उठा रही हैं.केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में यदि भाजपा सत्ता में आती है तो कोई माटी का लाल ही मुख्यमंत्री बनेगा.

प्रशांत किशोर ने किया भाजपा के दावे का खंडन
शाह के 200 सीटें जीतने के दावे पर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने सोमवार को ट्विटर पर दावा किया कि पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को दहाई का आंकड़ा पार करने के लिए मशक्कत करनी पड़ेगी. किशोर ने 2014 के चुनावों में प्रधानमंत्री पद के लिये नरेंद्र मोदी के अभियान का सफलतापूर्वक प्रबंधन किया था और इस बार अगले साल अप्रैल-मई में संभावित पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में अपनी पार्टी की संभावनाएं बेहतर बनाने के उद्देश्य से टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने उनकी सेवाएं ली हैं.

किशोर ने कहा कि यदि भाजपा दो अंकों से अधिक सीट प्राप्त कर लेती है तो वह ट्विटर छोड़ देंगे.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.