Advertisement
Categories: देश

जानिए… यूपी की 7 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में किस पार्टी से कौन है कैंडीडेट? | unnao – News in Hindi

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (UP Assembly By Election 2020)  में 7 सीटों पर 3 नवम्बर को वोट पड़ेंगे. प्रदेश की सभी चार महत्वपूर्ण पार्टियों ने अपने-अपने उम्मीद्वार घोषित कर दिए हैं. हालांकि इसमें काफी देर हुई क्योंकि 16 अक्टूबर को नामांकन का आखिरी दिन है. ऐसे में आईये जानते हैं कि किस सीट पर किसके बीच टक्कर होने वाली है.

1. मल्हनी, जौनपुर

इस सीट पर भाजपा ने मनोज सिंह को उम्मीदवार बनाया है. मनोज सिंह इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के पदाधिकारी रह चुके हैं. सपा ने लकी यादव को उतारा है. उनके पिता पारसनाथ यादव 2017 में विधायक बने थे लेकिन, उनके निधन के कारण सीट पर उपचुनाव हो रहा है. बसपा ने जय प्रकाश को टिकट दिया, जबकि कांग्रेस ने राकेश मिश्रा को उम्मीदवार बनाया है.  वहीं बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने भी निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर दावा ठोक दिया है.

2. बांगरमऊ, उन्नावभाजपा ने इस सीट से श्रीकंत कटियार को उतारा है. इनके सामने सपा ने सुरेश कुमार पाल को उतारा है जबकि बसपा ने महेश प्रसाद को टिकट दिया है. कांग्रेस ने बांगरमऊ से आरती बाजपेई को अपना कैंडीडेट बनाया है. 2017 में भाजपा से जीते कुलदीप सिंह सेंगर के मुकदमे में दोषी पाये जाने से ये सीट खाली हुई थी.

3. टूण्डला, फिरोजाबाद

एस पी सिंह बघेल के भाजपा से सांसद चुने जाने के बाद ये सीट खाली हुई थी. इस सीट पर भाजपा ने प्रेमपाल धनगर को टिकट दिया है. इनके सामने सपा के महराज सिंह धनगर चुनाव मैदान में हैं जबकि बसपा से संजीव कुमार चक और कांग्रेस से स्नेह लता ताल ठोंक रही हैं.

4. घाटमपुर, कानपुर

भाजपा की मंत्री कमलरानी वरूण के निधन के कारण ये सीट खाली हुई थी. इस सीट पर भाजपा ने उपेन्द्र कुशवाहा को उतारा है. सपा ने इन्द्रजीत कतोरी को उम्मीदवार बनाया है जबकि बसपा ने कुलदीप कुमार को टिकट दिया है. कांग्रेस ने कृपा शंकर पर दांव लगाया है.

5. नौगावन सादात, अमरोहा

भाजपा ने इस सीट से दिवंगत मंत्री चेतन चौहान की पत्नी संगीता चौहान को टिकट दिया है. इनका मुकाबला सपा के सैय्यद जावेद अब्बास, बसपा के मोहम्मद फुरकान अहमद और कांग्रेस के कमलेश सिंह से होगा.

6. बुलंदशहर

भाजपा के वीरेन्द्र सिंह सिरोही के निधन के कारण इस सीट पर उपचुनाव हो रहा है. भाजपा ने इस सीट पर दिवंगत सिरोही की पत्नी ऊषा सिरोही को उम्मीदवार बनाया है. सपा ने यहां से उम्मीदवार नहीं उतारा है बल्कि राष्ट्रीय लोकदल के लिए सीट छोड़ी है. रालोद से प्रवीण सिंह चुनावी मैदान में हैं. बसपा ने मोहम्मद युनूस को टिकट दिया है, जबकि कांग्रेस ने सुशील चौधरी को उतारा है.

7. देवरिया

भाजपा विधायक जनमेजय सिंह के निधन के चलते इस सीट पर उपचुनाव हो रहा है. यहां से भाजपा ने सत्य प्रकाश मणि को टिकट दिया है. वो संत विनोबा पीजी कॉलेज में राजनीति विज्ञान विभाग में प्रोफेसर हैं. सपा ने ब्रह्माशंकर त्रिपाठी को उम्मीदवार बनाया है. बसपा ने अभयनाथ त्रिपाठी जबकि कांग्रेस ने मुकुंद भाष्कर मणि त्रिपाठी को चुनाव में उतारा है.

बता दें कि 2017 के विधानसभा चुनाव में इन सात सीटों में से 6 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी. सिर्फ जौनपुर के मल्हनी में उसे सपा ने मात दी थी. मल्हनी से सपा के पारसनाथ यादव विधायक बने थे. अब देखना ये है कि इस बार के उपचुनाव में कौन कितने पानी में रहता है?


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.