Advertisement
Categories: देश

जब सुप्रीम कोर्ट को वकील से सुनना पड़ा- कौन बोल रहा है भाई? खूब लगे ठहाके | nation – News in Hindi

कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामलों की सुनवाई हो रही है.

नई दिल्ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के कारण सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मामलों की सुनवाई हो रही है. मंगलवार को एक केस की सुनवाई के दौरान कुछ ऐसा वाकया देखने को मिला, जिससे जज समेत तमाम लोगों ठहाके मारकर हंसने लगे. दरअसल, एक केस के सिलसिले में जब वकील को स्पीकर फोन पर जस्टिस ने कुछ सवाल किए, तो वकील पहले समझ न पाए. उन्होंने उलटा सवाल किया- ‘कौन बोल रहा है भाई! इस पर जज समेत सभी हैरान रह गए. कुछ देर बाद ठहाके लगे. वहीं, दूसरे वाकये में वकील साहब के चैंबर में पीछे की तरफ बंदूक रखी हुई थी. यह देख जस्टिस ने सवाल किया कि बंदूक का निशाना किसकी तरफ है, इस पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े लोग अपनी हंसी नहीं रोक पाए.

क्या है पूरा मामला?
दरअसल, मंगलवार को जस्टिस यूयू ललित की अगुवाई वाली बेंच के सामने मामले की सुनवाई चल रही थी. एक मामले में वकील साहब के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कनेक्टिविटी में खराबी हुई, तो जस्टिस ने अपने स्टाफ से कहा कि वह वकील साहब को फोन से कनेक्ट करें. तब स्टाफ ने वकील साहब को फोन मिलाया और स्पीकर ऑन था.

सोशल मीडिया पर फेक प्रोफाइल मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को नोटिस जारी किया

कॉल उठाए जाने पर जस्टिस ने वकील साहब से केस से संबंधित तमाम सवाल किए. एक के बाद एक कई सवाल थे. ऐसे में वकील सहाब सकपका गए और एक बारगी समझ न पाए कि फोन पर कौन बात कर रहा है. उन्होंने अपने अंदाज में पूछ लिया- ‘भाई साहब आपने बहुत सारे सवाल कर लिए. अब आप मेरे एक सवाल का जवाब दीजिए कि आप कौन बोल रहे हैं. कौन बोल रहे हैं भाई?’

जज ने दिया जवाब
इस तरह के सवाल की किसी को उम्मीद नहीं थी. तब जस्टिस ललित ने स्टाफ से कहा कि आप जब फोन मिलाते हैं तो क्या ये कहने की जहमत नहीं करते कि कहां से कॉल किया जा रहा है? तब स्टाफ ने माफी मांग ली. इसके बाद अदालत ने फोन डिस्कनेक्ट किया. बाद में अगले मामले को टेकअप किया गया.

वकील के चैंबर में रखी थी बंदूक
दूसरा वाकया भी जस्टिस यूयू ललित की अगुवाई वाली बेंच की सुनवाई के दौरान हुआ. सीनियर एडवोकेट एमएल लाहोटी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होने वाली सुनवाई के दौरान अपने चैंबर से पेश हो रहे थे. उनके चैंबर में बंदूक रखी थी. जस्टिस ललित ने सुनवाई के दौरान लाहौटी से सवाल किया कि ये कौन सी बंदूक है.

भाटला सामाजिक बहिष्कार केस: SC के जस्टिस सूर्यकांत ने खुद को मामले से किया अलग, कही ये बात

तब लाहौटी ने बताया कि ये बंदूक उन्होंने बर्लिन से खरीदी थी. दूसरे विश्व युद्ध में ऐसे ही बंदूक का इस्तेमाल हिटलर ने किया था. इस पर जस्टिस ललित ने कहा कि बंदूक का निशाना किसकी तरफ है. इस पर लाहौटी समेत सभी लोग हंस पड़े.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.