Advertisement
Categories: मनोरंजन

चित्रांगदा सिंह का दावा, सांवले रंग के कारण मुझे नहीं दिए गए मॉडलिंग असाइनमेंट

बॉलीवुड एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह (Chitrangda Singh).

मुंबई. सांवले रंग की वजह से हमारे समाज में कई बार भेदभाव किया जाता है. फैशन, मॉडलिंग और बॉलीवुड में भी सांवले रंग के कारण भेदभाव के आरोप लगते रहे हैं. बॉलीवुड एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह (Chitrangda Singh) ने भी सांवले रंग के कारण भेदभाव का सामना किया है. उन्होंने पहली बार इस बारे में खुलकर बात की है. चित्रांगदा ने खुलासा किया कि उन्होंने न केवल बचपन से बड़े होने के दौरान डिसक्रिमिनेशन का सामना किया है बल्कि मॉडलिंग के प्रोफेशन में भी इसका सामना किया है. सांवले रंग के कारण मुझे मॉडलिंग के कई असाइनमेंट नहीं दिए गए.

पिछले महीने, चित्रांगदा ने एक इंस्टाग्राम स्टोरी शेयर की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि वे ‘भूरी और खुश’ हैं. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि त्वचा के रंग के आधार पर बहुत अधिक डिसक्रिमिनेशन होता है. अपनी बात के साथ उन्होंने यह भी कहा कि हर कोई घर से व्हाईट स्किन्ड वाले लोगों की तलाश में नहीं निकलता.

बॉम्बे टाइम्स से बात करते हुए चित्रांगदा ने कहा, ‘मैं सांवली रंगत वाली लड़की के रूप में जीवन जीने की भावना को जानती हूं. हालांकि ऐसी बात नहीं है कि लोग सीधे आपके चेहरे पर कहेंगे, आप केवल इसे समझ सकते हैं. उत्तर भारत में बचपन से बड़े होने के दौरान मैं इस तरह के पूर्वाग्रह से गुजर चुकी हूं. मुंबई आने से पहले चित्रांगदा सिंह राजस्थान, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में रहती थी.

चित्रांगदा ने आगे कहा, ‘मुझे मॉडलिंग के असाइनमेंट में नहीं लिया गया क्योंकि मैं सांवली थीं. मॉडलिंग के शुरुआती दिनों में मुझसे कह दिया गया कि मैं सांवली हूं. मेरे उसी ऑडिशन को गुलजार सर ने देखा. ऑडिशन देखने के बाद उन्होंने अपने म्यूजिक वीडियो में मुझे काम दे दिया. इसके बाद मुझे हौंसला मिला कि हर कोई गोरा रंग के आधार पर ही काम नहीं देता.’ वर्कफ्रंट की बात करें तो चित्रांगदा एक शॉर्ट फिल्म में नजर आएंगी. खास बात यह है कि इस फिल्म के डायलॉग और स्क्रीनप्ले चित्रांगदा ने लिखे हैं.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.