Advertisement
Categories: देश

गन्ना किसानों के लिए बड़ी खबर, 5 नवंबर के पहले शुरू होंगी मेरठ मंडल की सभी 16 चीनी मिलें | greater-noida – News in Hindi

मेरठ मंडल की सभी चीनी मिलें 5 नवंबर से पहले खुल जाएंगीं. (सांकेतिक तस्वीर)

मेरठ. उत्तर प्रदेश में गन्ने (Sugarcane) के पेराई सत्र के इंतज़ार में बैठे किसानों (Farmers) के लिए ये अच्छी ख़बर है. अक्टूबर के अंतिम सप्ताह या 5 नवंबर के पहले मेरठ मण्डल की सभी 16 चीनी मिलें (Sugar Mills) चल जाएंगी. वहीं इस बार किसानों को पर्ची की समस्या से भी रूबरू नहीं होना पड़ेगा. अब इ-गन्ना एप के माध्यम से किसानों को सारी जानकारी घर बैठे ही मिल जाएगी और एसएमएस के माध्यम से किसानों का गन्ना तौला जाएगा.

गन्ने के पेराई सत्र के इंतज़ार में बैठे करोड़ों किसानों के ये ख़बर जरूर देखनी चाहिए. मेरठ मण्डल के उप गन्ना आयुक्त राजेश मिश्रा का दावा है कि अक्टूबर के अंतिम सप्ताह या 5 नवंबर से पहले मेरठ मण्डल की सभी चीनी मिलें चल जाएंगी. उनके मुताबिक मेरठ, बागपत, हापुड़, बुलंदशहर, गाज़ियाबाद की सभी चीनी मिलें 5 नवंबर के पहले चल जाएंगी. उप गन्ना आयुक्त का ये भी कहना है कि इस बार पर्ची की समस्या से किसानों को जूझना नहीं पडे़गा बल्कि हर किसान को एसएमएस मिलेगा और इसी एसएमएस से किसानों का गन्ना भी तौला जाएगा. उन्होंने बताया कि इस बार इ-गन्ना एप के ज़रिए किसानों को घर बैठे सारी सूचनाएं मिल जाएंगी.

कम गन्ना मूल्य भुगतान कराने वाली मिलों पर सख्त कार्रवाई

उप गन्ना आयुक्त ने ऐसी चीनी मिलों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी, जिन्होंने सबसे कम गन्ना मूल्य भुगतान किया है. गन्ना मूल्य भुगतान के मामले में गाज़ियाबाद की चीनी मिल सबसे फिसड्डी है, जबकि बुलंदशहर ज़िले की एक चीनी मिल ने अब तक सबसे ज्यादा गन्ना मूल्य भुगतान किया है. मेऱठ ज़िले में अब तक 80 फीसदी गन्ना मूल्य भुगतान किया जा चुका है. उप गन्ना आयुक्त ने बताया कि गन्ना मूल्य भुगतान न करने वाली चीनी मिलों पर कड़े एक्शन की तैयारी भी कर ली गई है.वेस्ट य़ूपी की धड़कन गन्ना है. गन्ना ही यहां की लाइफलाइन है. गन्ने के सहारे ही यहां के किसानों की ज़िन्दगी चलती है. बिटिया के हाथ पीले करने से लेकर बच्चों की स्कूल की फीस जमा करने तक किसानों को गन्ना ही याद आता है ऐसे में किसान टकटकी लगाए बैठा है हुक्मरान क्या फैसला लेते हैं.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.