Advertisement
Categories: देश

‘कोरोना वॉरियर्स भूखे पेट काम नहीं कर सकते’, डॉक्टरों ने दी कोविड वार्ड में काम न करने की चेतावनी

सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्ली. दिल्ली में पूरी तरह से कोविड 19 के लिए बनाए गए हॉस्पिटल हिंदू राव अस्पताल के डॉक्टरों और फ्रंटलाइन हेल्थकेयर कार्यकर्ताओं ने लगभग 4 महीने से वेतन का भुगतान न करने का विरोध किया. उन्होंने कहा कि वे महामारी की स्थिति का बहादुरी से मुकाबला करेंगे और लोगों की सेवा करेंगे, लेकिन “कोविड योद्धा भूखे पेट नहीं रह सकते हैं.”

हेल्थकेयर कार्यकर्ता गुरुवार को नो वेतन नो वर्क का जाप करते हुए अस्पताल के बाहर सड़क पर बैठ गए. विरोध कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि अगर सरकार उनकी बातों पर तुरंत अमल नहीं करती है तो सभी डॉक्टर और हेल्थकेयर कार्यकर्ता 19 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे. हिंदू राव अस्पताल के अध्यक्ष आरडीए अभिमन्यु सरदाना ने कहा, क्या डॉक्टर सुपरहुमन हैं? क्या हमारे पास भौतिक आवश्यकताएं नहीं हैं, घर के लिए राशन, चुकाने के लिए ऋण? क्या अधिकारी सिर्फ हमें बिना वेतन के साथ काम करते रहने की उम्मीद करते हैं और कब तक? उन्होंने लोगों से ‘थैलिस’ को हटाने के लिए कहा. उन्होंने कहा, “हम पर ऊपर से फूलों की बारिश होती है. मैं उन सभी इशारों को महसूस करता हूं, जो हमारे लिए अभी खोखले हैं.”


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.