Advertisement
Categories: देश

केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा कोरोना संक्रमित, खुद को किया आइसोलेट

केंद्रीय उर्वरक व रासायन मंत्री सदानंद गौड़ा कोरोना संक्रमित हो गए हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली. केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री सदानंद गौड़ा (Sadananda Gowda) कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाए गए हैं. सदानंद गौड़ा ने खुद गुरुवार को ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘कोविड-19 (णधघअ-19) के शुरूआती लक्षण के बाद मैंने कोरोना टेस्‍ट कराया. जिसके बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है और मेरे संपर्क में आए उन सभी लोगों से अनुरोध करता हूं कि वे सावधान रहें, सुरक्षित रहें और प्रोटोकॉल का पालन करें.

सदानंद गौड़ा के कार्यालय ने बताया कि मंत्री में फिलहाल कोविड-19 के हल्के लक्षण हैं. गौड़ा से पहले केंद्रीय मंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी और धर्मेंद्र प्रधान भी कोविड-19 से संक्रमित हुए थे. राकांपा नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. उनसे जुड़े करीबी सूत्रों ने गुरुवार को इस बारे में बताया. खडसे को शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा. सूत्रों ने बताया, ‘खडसे गुरुवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गए. डॉक्टरों की सलाह के मुताबिक शहर के एक अस्पताल में उनका उपचार होगा.’

खडसे की बेटी रोहिणी ने 15 नवंबर को खुद के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की जानकारी दी थी. इससे पहले, उप मुख्यमंत्री अजित पवार समेत एक दर्जन से ज्यादा मंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस समेत महाराष्ट्र के कई नेता संक्रमित हो चुके हैं. खडसे ने भाजपा के साथ चार दशक के अपने संबंध को खत्म कर लिया था और पिछले महीने शरद पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए थे.

कोविड टीके में स्वास्थ्य कर्मियों व 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी: हर्षवर्धनस्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बृहस्पतिवार को विश्वास व्यक्त किया कि अगले तीन-चार महीनों में कोविड-19 का टीका तैयार हो जाएगा और सरकार ने सावधानीपूर्वक प्राथमिकता योजना तैयार की है जिसमें स्वास्थ्य कर्मी और 65 साल की आयु से अधिक के लोग सूची में सबसे ऊपर हैं. हर्षवर्धन ‘फिक्की एफएलओ’ द्वारा आयोजित एक वेबिनार को संबोधित कर रहे थे. ‘कोविड के दौरान और उसके बाद बदले स्वास्थ्य प्रतिमान’ विषयक वेबिनार में हर्षवर्धन ने कहा कि कोविड-19 टीका अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगा और अनुमान है कि अगले साल जुलाई-अगस्त तक 25-30 करोड़ लोगों के लिए 40-50 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी.

उन्होंने कहा, ‘मुझे भरोसा है कि अगले तीन-चार महीनों में कोविड-19 टीका तैयार हो जाएगा.’ हर्षवर्धन ने कहा, ‘यह स्वाभाविक है कि टीका वितरण में प्राथमिकता दी जाएगी. जैसा कि आप जानते हैं कि स्वास्थ्य कर्मी, जो कोरोना योद्धा हैं, उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी, फिर 65 साल से अधिक आयु के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. फिर 50-65 साल की आयु वाले लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. उसके बाद 50 साल से कम उम्र के लोग जिन्हें अन्य बीमारियां हैं.’


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.