Advertisement
Categories: देश

कांग्रेस की बड़ी छलांग, 5 मंत्री और 14 विधायक हुये पास, BJP को भारी नुकसान

इन चुनावों में कांग्रेस के 6 विधायक और कांग्रेस समर्थक 2 निर्दलीय विधायक निकाय के टेस्ट में फेल हो गये.

जयपुर. पार्षद के बाद अब निकाय प्रमुखों के चुनावों में भी कांग्रेस (Congress) का दबदबा रहा है. 15 निकायों में ही स्पष्ट बहुमत होने के बावजूद निर्दलीयों की मदद से कांग्रेस ने 36 निकायों में अपने प्रमुख बनाए हैं. जबकि बीजेपी (BJP) के पास 4 निकायों में स्पष्ट बहुमत था. बीजेपी ने बहुमत से तीन गुणा ज्यादा 12 निकायों में अपने निकाय प्रमुख बनाए हैं. बीजेपी को इस बार निकायों में हुआ बड़ा नुकसान है. 2015 में बीजेपी के पास 34 निकायों में अध्यक्ष थे. कांग्रेस ने पिछली बार की तुलना में बड़ी छलांग लगाई है. कांग्रेस ने पिछली बार की तुलना में करीब तीन गुणा ज्यादा निकाय प्रमुख बनाए हैं. 50 शहरी निकायों में से 36 में कांग्रेस के अध्यक्ष बने हैं जबकि 12 में बीजेपी के निकाय प्रमुख बने हैं. 2 निकायों में निर्दलीय अध्यक्ष बने हैं.

कांग्रेस के 5 मंत्री और 14 विधायक निकाय प्रमुख के चुनावों में पास हुए हैं. इनके क्षेत्रों में कांग्रेस के निकाय प्रमुख बने हैं. 6 कांग्रेस विधायक और 2 कांग्रेस समर्थित निर्दलीय विधायक निकाय प्रमुख के चुनावों में फेल साबित हुए हैं. कांग्रेस विधायक रामनारायण मीणा, गंगा देवी, दीपचंद खैरिया, जोहरीलाल मीणा, बाबूलाल बैरवा और जगदीशचंद जांगिड़ अपने अपने इलाके के निकायों में न कांग्रेस का बोर्ड बनवाए पाए न निकाय प्रमुख. इसी तरह कांग्रेस समर्थित निर्दलीय रामकेश मीणा गंगापुर में कांग्रेस को नहीं जितवा सके. बिलाड़ा विधायक हीराराम एक पालिका में फेल एक में पास हुए हैं. बिलाड़ा नगरपालिका में बीजेपी का अध्यक्ष जबकि पीपाड़सिटी नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष बना है.

Rajasthan: राज्य सरकार की सिफारिशों के अनुसार निजी स्कूल ले सकेंगे फीस- हाईकोर्ट

कांग्रेस के ये 5 मंत्री निकाय टेस्ट में पास
– प्रमोद जैन भाया: अंता में कांग्रेस का अध्यक्ष, बारां नगरपरिषद में कांग्रेस का सभापति.
– परसादीलाल मीणा: लालसोट में कांग्रेस का अध्यक्ष.
– लालचंद कटारिया: जोबनेर में कांग्रेस का बोर्ड और अध्यक्ष.
– राजेंद्र यादव: कोटपूतली में कांग्रेस का अध्यक्ष.
– भजनलाल जाटव: वैर और भुसावर नगरपालिका दोनों जगह कांग्रेस के अध्यक्ष.

कांग्रेस के 13 और एक कांग्रेस समर्थक निर्दलीय विधायक पास
विश्वेंद्र सिंह: डीग और कुम्हेर में कांग्रेस ने सिंबल पर चुनाव नहीं लड़ा. यहां कांग्रेस समर्थत निर्दलीयों का बोर्ड बना. दोनों जगह कांग्रेस के अध्यक्ष बने. विश्वेंद्र सिंह की रणनीति काम आई.
जोगिंद्र सिंह अवाना: नदबई नगरपालिका में कांग्रेस का पालिकाअध्यक्ष.
वाजिब अली: नगर नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
जाहिदा खान: कामां नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
वेदप्रकाश सोलंकी: चाकसू में कांग्रेस का अध्यक्ष.
इंद्राज गुर्जर: विराटनगर में पहली बार कांग्रेस का बोर्ड और अध्यक्ष.
मुरारीलाल मीणा: दौसा नगरपरिषद में कांग्रेस का सभापति.
जीआर खटाणा: बांदीकुई नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
गिर्राज सिंह मलिंगा: बाड़ी नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
रोहित बोहरा: राजाखेड़ा नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
दानिश अबरार: सवाईमाधोपुर नगर परिषद में कांग्रेस का सभापति.
भरोसीलाल जाटव: हिंडौन नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.
पीआर मीणा: टोडाभीम में कांग्रेस का बोर्ड.
लाखन सिंह मीणा: करौली नगर परिषद में कांग्रेस का सभापति.
कांग्रेस समर्थित निर्दलीय आलोक बेनीवाल: शाहपुरा में कांग्रेस का अध्यक्ष.
कांग्रेस समर्थित निर्दलीय बलजीत यादव: बहरोड़ में पहली बार कांग्रेस का नगरपालिका अध्यक्ष बना. यहां निर्विविरोध अध्यक्ष बना.

कांग्रेस के ये 6 और समर्थक 2 निर्दलीय विधायक निकाय के टेस्ट में हुये फेल
– रामनारायण मीणा: इटावा नगरपालिका में बीजेपी का अध्यक्ष.
– गंगा देवी: बगरु में निर्दलीय.
– दीपचंद खैरिया: खैरथल और किशनगढबास में बीजेपी के अध्यक्ष.
– जोहरीलाल मीणा: राजगढ नगरपालिका में बीजेपी का अध्यक्ष.
– बाबूलाल बैरवा: खेड़ली में बीजेपी का अध्यक्ष.
– जगदीश चंद जांगिड़: सादुलशहर नगरपालिका में बीजेपी का अध्यक्ष.
– कांग्रेस समर्थित निर्दलीय रामकेश मीणा: गंगापुर नगरपालिका में बीजेपी का अध्यक्ष.
– बिलाड़ा विधायक हीराराम एक पालिका में फेल एक में पास: बिलाड़ा नगरपालिका में बीजेपी, पीपाड़ सिटी नगरपालिका में कांग्रेस का अध्यक्ष.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.