Advertisement
Categories: देश

ऊंचाई वाले क्षेत्र में सेना के जवानों के साथ दशहरा मनाने आज सिक्किम जाएंगे राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की फाइल फोटो (तस्वीर- ट्वीटर-@rajnathsingh)

नई दिल्ली/ गंगटोक. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) जवानों का हौसला बढ़ाने के लिए इस बार भी सीमा पर दशहरा मनाएंगे. राजनाथ का दौरा यह उस वक्त हो रहा है जब पूर्वी लद्दाख में चीन से सटी वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों देशों के बीच 6 महीने से गतिरोध जारी है. बताया गया कि इस दौरान राजनाथ दशहरे पर जवानों के साथ शस्त्र पूजन भी किया था.

News18 से बात करते हुए रक्षा मंत्री ने बताया कि मैं जब भारत का गृह मंत्री था उस वक्त भी दशहरा या दीपावली पर जवानों के बीच जाता रहा हूं. उसी परंपरा के तहत मैं सेना के जवानों के बीच जा रहा हूं.

सिंह ने कहा कि इस दौरान परंपरानुसार शस्त्र पूजन करेंगे और जवानों से बातचीत भी करेंगे. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रक्षा मंत्री LAC के करीब बनी चौकियों का दौरा करेंगे और जवानों का हौसला बढ़ाएंगे.

परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे राजनाथ
दो दिवसीय दौरे के लिए रक्षा मंत्री शनिवार दोपहर सिक्किम जाएंगे और इस दौरान वह भारतीय सेना की कुछ सीमा चौकियों का दौरा करेंगे तथा इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़ी परियोजनाओं की शुरुआत करेंगे. सूत्र ने बताया, ‘रक्षा मंत्री शनिवार रात सैनिकों के साथ दशहरा मनाएंगे .

सिंह पिछले कुछ साल से दशहरा पर ‘शस्त्र पूजा’ कर रहे हैं. पिछले साल फ्रांस के दौरे के दौरान दशहरा के मौके पर उन्होंने तटीय शहर बॉर्डिऑक्स में ‘शस्त्र पूजा’ की थी. एक अधिकारी ने बताया कि दशहरा मनाने के लिए रक्षा मंत्री के सिक्किम जाने से सैनिकों का मनोबल बढ़ेगा .

6 महीने से चल रहा भारत चीन गतिरोध
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रक्षा मंत्री राज्य में कई सड़क और पुलों का उद्घाटन भी करेंगे. इन सड़कों और पुलों की बदौलत अब भारतीय सेना के आवागमन में और ज्यादा आसानी होगी. इस दौरान वो सीमा की फॉरवर्ड लोकेशन्स पर भी जाएंगे जहां पर इस वक्त सैनिकों की संख्या बढ़ाई गई है.

गौरतलब है कि भारत चीन के साथ बीते 6 महीने से सीमा विवाद में उलझा हुआ है. अप्रैल महीने में शुरू हुआ ये विवाद जून महीने के मध्य में गलवान घाटी की घटना के बाद बेहद गंभीर हो गया था. भारत ने अपने सैनिकों की शहादत को लेकर बेहद सख्त रुख अख्तियार किया है. भारत की तरफ से चीन को स्पष्ट किया जा चुका है कि सीमाओं पर अशांति के साथ दोनों देशों के बीच संबंध सामान्य नहीं रह सकते.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.