Advertisement
Categories: देश

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने आखिर कैसे कोरोना वायरस को हराया, बताया अपना अनुभव | nation – News in Hindi

मानसिक दृढ़ता और देसी भोजन ने मुझे कोविड-19 से उबरने में मदद की: नायडू

नई दिल्ली. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (Vice President M Venkaiah Naidu) ने मंगलवार को कहा कि उम्र और कुछ चिकित्सा समस्याओं के बावजूद कोविड-19 (COVID-19) को मात दिया क्योंकि उन्होंने शारीरिक तंदरुस्ती, मानसिक दृढ़ता पर ध्यान दिया और केवल देसी खाना खाया. उल्लेखनीय है कि 29 सितंबर को नायडू के कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी और सोमवार को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई. उपराष्ट्रपति (71 वर्ष) को संक्रमण का कोई लक्षण नहीं था और वह गृह पृथकवास में थे. वहीं, उनकी पत्नी उषा भी संक्रमण मुक्त हो गई हैं.

फेसबुक पोस्ट में नायडू ने बताया कि उपराष्ट्रपति सचिवालय के 13 कर्मचारी भी संक्रमित पाए गए थे और अब सभी ठीक हो चुके हैं. उन्होंने लिखा, ‘इसी तरह, मुझे यह जानकर खुशी है कि राज्यसभा सचिवालय के 136 कर्मचारी जो कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे अब ठीक हो चुके हैं. इनमें से 127 कार्यालय आ रहे हैं और बाकी घर से काम कर रहे हैं.’ उपराष्ट्रपति ने लिखा, ‘मेरा पूरा विश्वास है कि मेरी उम्र और मधुमेह जैसी चिकित्सा समस्या के बावजूद, मैं अपनी शारीरिक तंदरुस्ती, मानसिक दृढता, नियमित व्यायाम जैसे टहलना और योग और इसके साथ ही केवल देसी खाने की वजह से कोविड-19 से उबर पाया.’

उन्होंने कहा कि वह हमेशा पारंपरिक भोजन लेना पसंद करते हैं और पृथकवास के दौरान भी उन्होंने इसे जारी रखा. नायडू ने कहा, ‘मैं अपने अनुभवों और दृढ विश्वास के आधार पर, सभी लोगो से रोजाना शारीरिक व्यायाम- टहलना, जॉगिंग या योग- करने का आह्वान करता हूं. इसके साथ ही यह भी महत्वपूर्ण है कि प्रोटीन से भरपूर भोजन करें और जंक फूट से बचें.’

ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- लगातार कम हो रहे कोरोना के नए मामले, एक्टिव केस में भी कमीये भी पढ़ें: कोरोना वायरस से बचने के लिए कौन सा मास्क सबसे सही? सरकार ने दिया जवाब

उपराष्ट्रपति ने शुभचिंतकों के प्रति कृतज्ञता जाहिर की
उपराष्ट्रपति ने कोरोना संक्रमित होने पर ट्वीट कर सभी को जानकारी दी थी. उनके स्वास्थ्य लाभ की शुभकामनाओं को लेकर तमाम राज्यपालों, मुख्यमंत्रियों, केन्द्रीय मंत्रियों, राज्यों के मंत्रियों, जन प्रतिनिधियों, विभिन्न दलों के राजनेताओं के साथ जीवन के विभिन्न क्षेत्रों, विभिन्न मतों के अनुयायियों और देश के विभिन्न भागों से आए सभी लोगों ने ईश्वर से प्रार्थना की थी. उपराष्ट्रपति ने उन सभी शुभचिंतकों की शुभेक्षाओं और सद्भावना के लिए कृतज्ञ आभार व्यक्त किया. उन्होंने लिखा कि आप सभी की शुभकामनाओं से ही वे कोविड 19 के संक्रमण से इतनी जल्दी उबर सकने में सक्षम हो पाये.

उपराष्ट्रपति ने डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ का भी आभार जताया
कोविड 19 महामारी को हराने में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के स्वास्थ्य की देख रेख करने वाले डॉक्टरों तथा स्वास्थ्य स्टाफ, एम्स के डॉक्टरों तथा अन्य डॉक्टरों के प्रति आभार व्यक्त किया, जो समय समय पर महत्वपूर्ण दिशानिर्देश और सलाह देते रहे. उपराष्ट्रपति ने सभी के सेवाभाव और समर्पण भाव अभिनंदन किया. उपराष्ट्रपति ने अपने निजी स्टाफ विक्रांत और चैतन्य की भी सराहना की.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.