Advertisement
Categories: देश

आम आदमी के लिए बड़ी खबर: अब 80 रुपये किलो तक बिक रहा है गुड़, जानिए क्या है इसकी वजह? | bijnor – News in Hindi

बाजार में गुड़ की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है.

नई दिल्ली. देश में गुड़ (Jaggery)  से ज्यादा खपत चीनी की होती है. क्योंकि चीनी (sugar) का स्वाद गुड़  की अपेक्ष बेहतर होता है. लेकिन रेट के मामले में गुड़  चीनी को बहुत पीछे छोड़ चुका है. इसकी वजह है कोरोना (Corona) जैसी महामारी, दरअसल सर्दी जुकाम से बचने के लिए अधिकाश घरों में काढ़ा बनाया जा रहा है. जिसमें गुड़  का इस्तेमाल किया जाता है. ऐसे में गुड़  की डिमांड देश के साथ-साथ विदेशों में भी बढ़ गई है. वेस्ट यूपी में तों गुड़  की डिमांड को पूरा करने के लिए नए कोल्हू खुल रहे हैं. पैकेजिंग यूनिट लग रही हैं. जिससे की गुड़  की सप्लाई बिना किसी रुकावट के पूरी की जा सकें.

मॉल में 250 ग्राम गुड़ की कीमत 20 रुपये-अभी तक गुड़ सिर्फ आम दुकानों पर और गांवों में लगने वाली हॉट में ही दिखाई देता था. लेकिन अब अगर आप मॉल जाएं. तो वहां भी आपको 250 ग्राम की आकर्षक पैकिंग में गुड़ स्टॉल में रखा हुआ मिल जाएगा. जिसकी कीमत 20 रुपये है मतलब कि एक किलो गुड़  की कीमत सीधे 80 रुपये हुई.

यह भी पढ़ें: …अचानक इतनी क्यों बढ़ गई इस मुर्गी की डिमांड, मुंह बोली कीमत पर नहीं मिल रही

ऐसा नहीं है कि खुले बाज़ार में गुड़ कोई बहुत ही सस्ते दामों में बिक रहा हो.  50 से 65 रुपये किलो तक गुड़ दिल्ली-एनसीआर में दुकानों और हॉट बाजार में बिक रहा है.गुड़ की सबसे बड़ी मंडी में रेट-वेस्ट यूपी के मुजफ्फरनगर को गुड़ की बड़ी मंडियों में शुमार किया जाता है. इस मंडी में हर रोज दो से तीन बार गुड़ के दाम तय होते हैं. यदि हम 13 अक्टूबर को गुड़ के रेट देखे तो वो इस रहे थे. सबसे अच्छी किस्म का चाकू गुड़  1240 से 1355 रुपये का 40 किलो, लड्डू गुड़ 1150 से 1200 रुपये का 40 किलो, खुरपा गुड़ 1020 से 1075 रुपये का 40 किलो, शक्कर मसाला गुड 1200 से 1250 का 40 किलो, रस्कट ढइया गुड़ 1150 से 1155 का 40 किलो और ढइया गुड़ 1160 से 1175 रुपये का 40 किलो तक बिका. मंड़ी में नया गुड़ भी आने लगा है. हालांकि सबसे ज्यादा बिक्री चाकू गुड़ और लड्डू गुड़ की ही होती है.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.