Advertisement
Categories: देश

अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति अल गोर ने ली जल प्रतिज्ञा, जलवायु संकट पर की बात

Mission Paani: अल गोर (Al Gore) ने कहा विकसित और विकासशील दोनों तरह के देशों को समझना कि स्वस्थ जीवन के लिए पानी बहुत जरूरी है. उन्होंने कहा हर एक व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वह जलवायु संकट को खत्म करने में भूमिका निभाने के लिए आगे आए.

नई दिल्ली. हार्पिक-न्यूज18 मिशन पानी अभियान (Mission Paani Campaign) के के तहत आयोजित जल प्रतिज्ञा कार्यक्रम में अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति अल गोर भी शामिल हुए. गोर ने इस मौके पर दुनिया के लोगों को पानी की जरूरत समझने की सलाह दी. खास बात है कि जल प्रतिज्ञा दिवस (Jal Pratigya Diwas) के मौके पर अभिनेता अक्षय कुमार, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत जैसी कई बड़ी हस्तियां शामिल हुईं.

अल गोर ने गुरुवार को कहा कि दुनिया के हर एक व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वह जलवायु संकट को खत्म करने में भूमिका निभाने के लिए आगे आए. उन्होंने कहा ‘विकसित और विकासशील दोनों तरह के देशों को समझना कि स्वस्थ जीवन के लिए पानी बहुत जरूरी है.’ इस दौरान गोर ने लोगों से जल प्रतिज्ञा लेने की भी अपील की. गोर जाने माने पर्यावरणविद और नोबल पुरस्कार विजेता हैं.

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि भारत में पानी का संकट है. भविष्य में ‘चलता है’ वाले रवैये से काम नहीं चलेगा.यह काम सिर्फ सरकार का नहीं है. हमें सामूहिक रूप से आना होगा. भारत सरकार में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने कहा ‘जल में वह शक्ति है, जो जीवन को संजोता और बचाता है. जल के बिना जीवन समाप्त हो जाता है. उन्होंने कहा ‘जल की सुरक्षा अपनी सुरक्षा है.’ उन्होंने न्यूज18 के मिशन पानी के प्रयास को लेकर खुशी जताई.

मिशन पानी के एंबेसडर और अभिनेता अक्षय कुमार ने कहा कि घर को साफ रखने, शौच साफ करने और नहाने के लिए पानी की सबसे जरूरत है. इसलिए वह इस अभियान का हिस्सा बने हैं. उन्होंने कहा ‘साफ हवा, साफ पानी या साफ घर के साथ साफ शौचालय. यह चीजें बहुत ही बुनियादी हैं, हमारी सेहत के लिए और हमारे देश के लिए.’वर्ल्ड टॉयलेट संस्था के संस्थापक जैक सिम ने कहा कि मैं चाहता हूं कि सभी बच्चे जल रक्षक बनें और दूसरों को भी स्वच्छता को कोविड से सुरक्षा के रूप में पहला डिफेंस बताएं. उन्होंने बच्चों को अपने माता-पिता को भी स्वच्छता के बारे में जानकारी देने की अपील की.

भारत सरकार में शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने कहा ‘जल में वह शक्ति है, जो जीवन को संजोता और बचाता है. जल के बिना जीवन समाप्त हो जाता है. उन्होंने कहा ‘जल की सुरक्षा अपनी सुरक्षा है.’ उन्होंने न्यूज18 के मिशन पानी के प्रयास को लेकर खुशी जताई.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.