Advertisement

अंजुम चोपड़ा ने दिया विराट कोहली का साथ, बोलीं- पृथ्वी शॉ को एडिलेड टेस्ट में मौका देना गलत फैसला नहीं था

एडिलेड टेस्ट की दोनों पारियों में पृथ्वी शॉ बोल्ड हो गए थे (साभार-एपी)

नई दिल्ली. भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान अजुम चोपड़ा (Anjum Chopra) ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पुरूष टीम को बाकी बचे तीन टेस्ट मैचों में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की बहुत कमी खलेगी. शमी एडिलेड में खेले गये शुरुआती टेस्ट में चोटिल हो गये थे. भारत की दूसरी पारी के दौरान पैट कमिन्स की उछाल लेती गेंद उनकी की कलाई पर लगी जिसके बाद उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा . मैच के बाद अस्पताल में उनकी कलाई के स्कैन में फ्रैक्चर की पुष्टि हुई जिससे 50 टेस्ट में 180 विकेट लेने वाला यह गेंदबाज चार मैचों की श्रृंखला के बाकी बचे तीन टेस्ट से बाहर हो गया. भारतीय कप्तान विराट कोहली पितृत्व अवकाश पर होने के कारण अब टीम के साथ नहीं रहेंगे.

टीम इंडिया को शमी की कमी खलेगी
अंजुम ने कहा कि कोहली को लेकर टीम पहले से मानसिक रूप से तैयार थी लेकिन शमी के ना होने से भारतीय गेंदबाजी आक्रमण पर काफी प्रभाव पड़ेगा. उन्होंने कहा, ‘ शमी इस टीम में अंतिम 11 के खिलाड़ी है, गेंदबाजी में उनका शानदार योगदान रहता है. इशांत शर्मा पहले से ही टीम के साथ नहीं है ऐसे में इसका काफी असर पड़ेगा. नये गेंदबाज के लिए इस कमी को पूरा करना काफी मुश्किल होगा.’ उन्होंने कहा, ‘शमी वहां पहले खेल चुके है और काफी अनुभवी गेंदबाज है. टीम को उनकी गेंदबाजी के अलावा मैदान में अनुभव की कमी भी खलेगी. वह विकेट चटकाने के साथ कसी हुई गेंदबाजी कर बल्लेबाजों पर एक छोर से लगातार दबाव भी बनाते हैं.’

अंजुम ने पहले टेस्ट की दूसरी पारी में टेस्ट इतिहास के न्यूनतम 36 रन पर आउट होने पर भारतीय बल्लेबाजों की आलोचना करते हुए कहा कि इससे उनके मनोबल पर बुरा असर पड़ेगा. उन्होंने भाषा से कहा, ‘ हमारे खिलाड़ी लंबे समय से ऑस्ट्रेलिया में है. वे लगातार मैच भी खेल रहे है. ऑस्ट्रेलिया ने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन यह हश्र नहीं होना चाहिये था. दूसरा टेस्ट 26 दिसंबर से शुरु हो रहा है ऐसे में मानसिक रूप से वापसी करना काफी चुनौतीपूर्ण होगा. इन खिलाड़ियों में कौशल की कमी नहीं है लेकिन उन्हें लय में आना होगा.’हार से भड़के शोएब अख्तर, कहा-पाकिस्तानी टीम में क्लब स्तर के बच्चों से भी कम अक्ल

पृथ्वी शॉ को टीम में शामिल करना गलत फैसला नहीं था-चोपड़ा
पहले टेस्ट में टीम चयन खासकर पृथ्वी शॉ और रिदिमान साहा को लेकर भी सवाल उठे लेकिन अंजुम को भारतीय टीम के अंतिम 11 में कोई कमी नहीं लगी. उन्होंने कहा, ‘ टीम में 11 खिलाड़ी ही खेल सकते हैं. साव ने इससे पहले न्यूजीलैड दौरे पर अपने आखिरी टेस्ट में अर्धशतकीय पारी खेली थी. रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में साव को ही मौके के हकदार थे. साहा ने भी अभ्यास (ऑस्ट्रेलिया में) मैच अर्धशतक लगाया था. टीम के चयन में मुझे कोई कमी नहीं दिखी. शुभमन और पंत को आगे के मैचों में मौका मिलेगा. ‘ भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में 26 दिसंबर (बॉक्सिंग डे) से श्रृंखला का दूसरा टेस्ट खेलेगी.


Source link

Leave a Comment
Advertisement

This website uses cookies.